मेघालयः दुनिया मे सबसे अधिक वर्षा होने वाला स्थान

मेघालयः दुनिया मे सबसे अधिक वर्षा होने वाला स्थान

एक बात जो कि दुनिया के किसी भी हिस्से में मौजूद नहीं है, वह है की मेघालय अपने आप ही पुलों का निर्माण करता है और जिसे देख कर लगता है की इसका एक हिस्सा बादल से जुड़ा है और इसकी वजह है की वहां बारीश की वजह से जमीन पर भी धंुध दिखता है जिसकी वजह से पुल का दूसरा हिस्सा धुंध से ढ़क जाता है जैसे कोई बादल हो। इसका निर्माण पेड़ो की जड़ो के एक दूसरे से जुड़ने की वजह से हुआ है वो भी हजारो सालो पहले और जो आज भी है।

मेघालयः दुनिया मे सबसे अधिक वर्षा होने वाला स्थान

ये ज्यादातर चेरापूंजी में स्थित हैं और खास बात है की इसे स्थानांतरित किया जाता है और वे सपाट और रस्सियों से बने होते हैं और यह पुल के दूसरे छोर तक पहुंचने मे भी सहायता करती हैै। गांव के बच्चो के लिये ये पुल स्कूल जाने का सबसे छोटा मार्ग है और वो इसे रोज पार करते है।

मेघालयः दुनिया मे सबसे अधिक वर्षा होने वाला स्थान

मेघालय के आदिवासी लोग ईसाई हैं और यह मुख्य कारण है कि इस क्षेत्र में इस तरह के धूमधाम और शो के साथ क्रिसमस मनाया जाता है। हिन्दू, मुस्लिम और सिख इस क्षेत्र का एक हिस्सा बनाते हैं लेकिन राज्य में वे अल्पसंख्यक हैं। ईसाई लोग बहुत ही उनकी संस्कृति और धर्म के लिए निहित हैं और वे भी सबसे सम्मान और सम्मान के साथ बाइबिल लेते हैं।

मेघालयः दुनिया मे सबसे अधिक वर्षा होने वाला स्थान

यहां ज्यादातर उबला हुआ भोजन होता है। भोजन पोषक तत्वों में समृद्ध है और इसलिए इस क्षेत्र में बहुत ही स्वस्थ और मजबूत व्यक्ति हैं। और दिलचस्प तथ्य यह है कि इस क्षेत्र में सुबह 4 बजे नाश्ता किया जा सकता है क्योंकि लोग बहुत कड़ी मेहनत करते और सुबह जल्दी उठते हैं ब्रेकफास्ट में आम तौर पर काली चाय, उबला हुआ अंडे और कभी कभी पुरी भाजी शामिल होती हैं।

मेघालयः दुनिया मे सबसे अधिक वर्षा होने वाला स्थान

मेघालय घने जंगलों से भरा है और सुंदर प्रकृति इस क्षेत्र में चारो तरफ नजर आती है। खासी पहाड़ियों में करीब 325 ऑर्किड की विभिन्न प्रजातियां हैं। राष्ट्रीय उद्यानों में भारतीय हॉर्नबिल, भारतीय पार्कीट, हरी कबूतर आदि जैसे जानवरों की अलग-अलग प्रजातियां हैं। बाल्फाक्राम राष्ट्रीय उद्यान गारो पहाड़ियों में स्थित है और इसमें कई विदेशी प्रजातियां मौजूद हैं। साल और सागौन वन आम जंगलों हैं जो यहां पाए जाते हैं।

मेघालयः दुनिया मे सबसे अधिक वर्षा होने वाला स्थान

मेघालय वर्षभर पर्यटको से भरा हुआ रहता है। लेकिन, वर्ष का सबसे अच्छा समय मार्च और जुलाई के बीच है ये मौसम तब होते हैं जब कोई जलती हुई झरने और हरे पहाड़ों को देख सकता है। और एक बार नदियों में नौकायन भी किया जा सकता है क्योंकि उस वक्त नदिया शांत और पानी बिल्कुल स्वच्छ होता है। मेघालय जाने का सबसे अच्छा तरीका गुवाहाटी से है जहां से आप कार ले सकते हैं