इस दुनिया का कोई भी इंसान या नाग नही कर सकता नागराज की मृत्यु की....क्षतिपूर्ति

इस दुनिया का कोई भी इंसान या नाग नही कर सकता नागराज की मृत्यु की--क्षतिपूर्ति

क्षतिपूर्ति नागराज की 200वीं कॉमिक्स है जिसका इंतजार पाठको को वीरगति पढने के बाद बड़ी बेसब्री से था। ’क्षतिपूर्ति’ अगर सच मे कहा जाय तो ये नाम इस काॅमिक पर सटिक बैठती है। क्योंकि इस काॅमिक्स में हर कोई अपनी क्षतिपुर्ति कर रहा है चाहे वो नागराज के खास दुश्मन हो या विश्व के खूंखार आंतकवादी। सभी नागराज के डर से भयमुक्त हो चुके है किंतु जैसे की कहा जाता है जहां अंत है वहां शुरूवात भी है जहां अंधेरा है वहां उजाला भी है और ऐसी ही एक कहानी चल रही है इस काॅमिक्स मे जिसकी शक्तियां नागराज जैसी है किंतु वो कौन है ये एक रहस्य है जो की क्षतिपूर्ति के अगली श्रृखंला मौत के बाजीगर मे और रोचक बना देती है। मौत का बाजीगर आगामी राज कॉमिक्स सेट का मुख्य आकर्षण है और क्षतिपूर्ति श्रृंखला में दूसरी किस्त है। दोनो काॅमिक्स के भाग की कहानी काफी बढ़िया है, आर्टवर्क शानदार है। क्षतिपूर्ति से जैसी उम्मीद पाठकों को थी ये उस पर खरी उतरी है। नितिन मिश्रा जी कहानी मे कसावट हैं। हेमंत जी का कार्य भी बेहद सराहनीय है। पूरी राज कॉमिक्स टीम द्वारा संयुक्त रूप से एक अच्छा प्रयास है।